जंगल बचाओ के कुछ महत्वपूर्ण बाते

www.itinformation.online
हम मनुष्य अपने स्वार्थ के लिए अपने साधन के लिए सदियों से युगो -युगो से पेड़ अनधुन काटते आये है।
क्या आपको पता है ये सबसे मह

त्व पुराण बाद जब आज से 5000 वर्ष पहले जब महाभारत काल में दिल्ली 

में लगबघ 50000 लाख पेड़ लगाए गए थे।  लेकिन हम मनुष्य उन 5000 वर्षो में अभी तक वो साडी पड़े काट चुके है।  लगभग हम उन 5000 वर्षो में 500000 लाख पेड़ काट चुके है जो दिल्ली में थे। 

आप इस बात पे सर्च कर सकते आज से 5000 वर्ष पहले दिल्ली में कितने पेड़ लगाए गए थे। 
हमलोगो ने बड़ी आसानी से उन पेड़ो काट दिया पर एक भी नहीं लगा रहे। जिस आने वाली 5 सालो में 

हमलोग को सास लेने में भी मुश्किल होगी। 

आपको पता है अभी दिल्ली में लोगो के स्कूल , collages बंद कर दिए है। क्युकी दिल्ली में सबसे जायदा pollution है।  आज दिल्ली के लोगो घर से निकलना भी मुश्किल हो गया है। धीरे -धीरे अगर ऐसे ही पेड़ 

कटेगा तो पूरा विसव में सिर्फ पोल्लुशण ही होगा। दिल्ली के लोगो को उन्होंने ने बड़ी आसानी से उन 500000 लाख पेड़ो  काट दिया है। 

अगर अभी से पेड़ो की अनधुन कटाई को नहीं रोकी गई तो पृथवी पे पेड़ो का सतीत्व मिट जायगा। 
 आने वाले ५ सालो में पेड़ो को हमलोग picture में देखेंगे। 

अभी से हमें ये नैरा लगाना चाहिए पेड़ लगाओ और जीवन बचाओ इस। इसका मतलब ये है की अगर पेड़ रहेंगे तो तभी तो मनुष्य का जीवन बचेगा। हमें जल्द -जल्द  इस पोस्ट को आगे और लोगो के पास पहुंचना होगा नहीं 

तो  हम मनुष्य का  खतरे में है।   हमें जल्द -जल्द पेड़ की कटाई को रोकना होगा और जितना जायदा पेड़ लगाए 
पेड़ हमेशा लगते रहे। 

जंगल काटने से बहुत से पशु -पछि लुप्त हो गय है। 

अगर आप इस पे धयान नहीं देंगे तो हम पशु -पछियो को सिर्फ तस्वीर में ही देखेंगे। 
एक जवना था।  जब हमलोग सुबह उठते थे तो हमें पछियो की आवास सुनिया देती थी। 
आज तो एक पछि  भी नहीं देखता मनो इस पृथ्वी पर पछि पशु लुप्त हो गया है। 

पसु -पछियो का लुप्त होने का मूल कारण क्या है। 

आपको पता ही होगा  कुछ लोग सोचते है की जानवरो के सीकर करने से पशु -पछि लुप्त हो गय है। 
जो  लोग ये सोचते है वह बिलकुल गलत सोचते है। पशु -पछियो का लुप्त लुप्त होने का में मेन कारन 

 पेड़ों की अनधुन कटाई से ही पशु -पछिया लुप्त हो गई है। आपको  विश्वाश नहीं होगा आप सोचेंगे की ये 
बिलकुल झूठ लिख रहा है।  लेकिन में आपको proof करके करके के बताऊंगा की ये बिलकुल सताय है। 

आज से 5000 वर्ष पूर्व की बात है। 

क्या आपको पता ही होगा की महाभारत के युद्ध में लाखो हाथी -घोडे मैरे गए तब क्या हाथियों  संख्या कम 
थी नहीं न आपको मूल कारन तो पता चल ही होगा की जानवरो के लुप्त होने मूल कारन अनधुन पेड़ो की 
कटाई की वजह से ही पशु -पछि लुप्त हो गाय है। 

पेड़ो के बचाओ के लिए  हमें क्या करना चाहिए। 

पेड़ो के बचाओ के लिए हमें हर एक आदमी एक  पेड़ लगाए। 
अगर हर एक आदमी एक पेड़ नहीं लगता है तो  जायेगा। 
अगर हर एक आदमी एक पेड़  लगता है तो भारत की जनसँख्या सवा सौ करोड़ है। अगर हर एक आदमी पे 
एक पेड़ जोड़ा जय तो हम फिर से भारत में सवा सौ पेड़ लगा देंगे जिस हम poolution के नमो निशान मिटा सकते है। 

अधिक-से -अधिक पेड़ कैसे लगाए 

अधिक से अधिक पेड़ लगाने के लिए हमें   सभी जगह नियम बनने होंगे की जितना जरुरी हमें   अन्य कामो के लिए देते है। उतना ही जरुरी हमें पेड़ लगाना है। 

पेड़ को बचाने से क्या -क्या फायदे है। 

पेड़ ध्वनि प्रदूषण जल प्रदुषण , वायु प्रदूषण को रोकने के लिए पेड़ लगाना एक अचज साधन है। 

हमें अनेक कार्बन दी ऑक्साइड को सुधा करने मदद करता है। 

हवा को हमेशा तजा और फ्रेश करता है जिस हमें सास लेने में तकलीफ नहीं होती है। 

पेड़ लगाने से हमें गर्मियों के दिनों में आपने आप को गर्मी से राहत मिलता है। 

पेड़ मृदा पानी में बहने से रोकता है क्युकी मृदा पेड़ो की जड़ो से जकड़ी रहती है। 

पेड़ की सबसे बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका है क्युकी पेड़ वर्षा करने में सहायक है जिस हमारे फसल उगते है। 

पेड़ बचाने के खुश नारे 

ये मुर्ख इंसान मत काट ये पेड़ क्युकी पेड़ो में भी है जान 
ये मुर्ख इंसान मत काट ये पेड़ क्युकी पेड़ो में भी है जान
 

अगर आप इस नारे को आगे share करते है तो सायद पेड़ बचाया जा सकता आपकी सहयोग से 
कृपया इस आगे share करने की कोशिस करे। 

 



Post a comment

0 Comments