Mahatma gandhi kaun महात्मा गाँधी कौन थे। इनका जन्म कब हुआ था।

 Mahatma gandhi कौन थे। इनका जन्म कब हुआ था।  Mahatma gandhi का पूरा नाम मोहन दास कर्मचन गाँधी था।
इनका जन्म गुजरात में 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था। इनके पिताजी का नाम करमचंद उत्तमचंद नाम था।
मोहनदास की माँ का नाम पुतलीबाई था। जो अपने पिता के चौथे संतान के अंतिम संतान थे। मोहन दास करमचंद गाँधी भारतीय स्वतंत्रा संग्राम के प्रमुख नेता थे। इन्होने भारतीय स्वंतत्रा को इन्हे को स्नेह जाता है।
संयुक्त राष्ट्र के संघो ने विश्व में गाँधी जयंती को अहिंसा दिवस के रूप में मान्य जाता है। उन्हें दुनिया में आम जनता  Mahatma gandhi के नाम से जाना जाता है। गाँधी जी को नाम से सबसे पहले राजवैद्य जीवराम ने बोलकर सम्बोधित किये। इनका जन्म दिवस भारत में 2 अक्टूबर को मनाया जाता है। और पुरे विश्व में महात्मा गाँधी का जन्म के रूप अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

 Mahatma gandhi का प्रांभिक Jivan

मोहनदास करमचंद गाँधी का जन्म पछिमी भारत वर्तमान में गुजरात के तटीय शहर प्रबंदर नमक स्थान 2 ओक्टोबर 1869 को हुआ हुआ था। उनके पिताजी संतान धर्म की पंसारी जाती से सबंध रखते थे। उनकी माता पुतलीबाई वय्पारी समुदाय की थी। पुतलीबाई करमचंद की चौथी पत्नी थी। बाकि तीन पत्निया प्रसव  के समय मर गई थी।  Mahatma gandhi करमचंद की अंतिम संतान थे। 

 Mahatma gandhi की कम आयु में viwah


उनका विवाह 1883 में 13 साल की आयु में 14 साल के कस्तूरबा बाई के साथ हो गया था। कस्तूरबा को प्यार से लोग बा कहके के फुकार करते थे। यह विवाह उनके माता-पिता के वेवस्थित तरीका से क्या गया था। जो उस समय बल विवाह बहुत ही  था। महात्मा गाँधी जब 15 वर्ष की आयु में थे तो इनका पहला संतान का जन्म हुआ। लेकिन वह बच्चा कुछी साल ही जीवित रहा। उसी समय  Mahatma gandhi के पिता भी चल बसे।  Mahatma gandhi के चार पुत्र थे। 

 Mahatma gandhi के Videsh में शिक्षा 

उन्होंने ने अपने 19 जन्मदिन के 1 महीने पहले ही 4 सितम्बर 1888 को अपने पढाई करने इंग्लैंड चले गए। वह वकील बनाना चाहते थे।  Mahatma gandhi शुद्ध शाकाहारी थे। लोगो कहने पर उन्होंने श्रीमद्धभगवत गीता का अध्यन किया। इनलैंड और वेल्स और के बुलवे पर वह भारत लौट आये। भारत आकर उन्होंने ने मुंबई में वकालत किये लईकिन वह वह अशफल रहे। बाद में उन्होंने एक हाई स्कुल शिक्षक की नौकरी पत्र को असिव्कर कर दिए। 

Post a comment

0 Comments