Search engine optmization kya hai और ये कैसे काम करता है।

Seo kya hai इसके मदद से हम अपने पेज को गूगल फर्स्ट रैंक पे लाते है।  Google  पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाले वेबसाइट है। इसके बाद आते है yahoo ,bing है। Seo  की मदद से हम अपने साइट को गूगल के रैंक के फर्स्ट पे लाते है। जैसे हमलोग गूगल में कोई भी चीज सर्च करते है। तो वो गूगल में  आता है वो कंटेंट किसी ब्लॉग का ही होता है। जो हमलोग गूगल पे सर्च करते है। जो कंटेंट सबसे ऊपर आता है। उसका Seo  बहुत ही अच्छा से किया होता है। Seo  की मदद से आप अपने पेज को फर्स्ट पेज में रैंक करते है। जिससे आपका ब्लॉग का विजिटर increase होता है। और आपको ट्राफ्फिक मिलती है। जिससे आपका ब्लॉग फेमस हो जाता है। और आपकी एअर्निंग होने लगती है।

Types  ऑफ़ Seo कितने प्रकार के होते है 

1.  ON  PAGE SEO
2. OF PAGE SEO 

on page Seo  का काम होता है। आपके ब्लॉग को सही तरह से डिज़ाइन करना आप ने अपना आर्टिकल कैसा लिखा है। Seo  फ्रेंडली है की नहीं है। आपका them कैसा है।Seo  के मुताबिक अपना आर्टिकल कैसा लिखा है। उसमे आपने अच्छे कंटेंट लिखा है। आप किस कीवर्ड के ऊपर काम कर रहे है।  ताकि गूगल को पता लग सके 
आप कैसा आर्टिकल लिख रहे। तब  आपको आपके ब्लॉग को रैंक करने मदद करती है। 

On page seo  कैसे करे 

1 . Website speed - अगर आपका Website  खुलने 5 se 6 सेकंड से ज्यादा टाइम लगता है। तो आपका ब्लॉग 
गूगल के नजर में ख़राब हो जाता है। इसलिए हमेशा अपने ब्लॉग का स्पीड पे डेपेंट करता है। अगर आपका ब्लॉग खुलने में ज्यादा से ज्यादा समय लेता है। तो समझ लीजिये की आपके ब्लॉग विजिटर बहुत काम आएंगे। 
क्युकी गूगल सर्वे के मुताबिक गूगल पता लगा है। अगर आपका वेबसाइट स्पीड काम आपके वेबसाइट को छोड़कर विजिटर दूसरे वेबसाइट पे चले जाते है। इसलिए अगर आपको अपने traffic increse करना है। तो आप अपने ब्लॉग का वेबसाइट स्पीड जरूर चेक करे। 

2 . Website navigation - अपनी ब्लॉग को आप ऐसा बनाइये ताकि विजिटर को एक पेज से दूसरे पेज में जाने से परेसानी न हो। 

3 . Title tag -  अपने वेबसाइट को title ,tag ज्यादा से ज्यादा attractive बनाए ताकि जैसे ही कोई आपके टाइटल को पढ़े वह झठ से उस पर क्लिक कर दे। जिस आपका वेबसाइट का CTR icrease होगा। 

4 . Post URL - अपने वेबसाइट को जितना सिंपल और काम सब्द का URL बनाए। 

5 . Alt tag - गूगल आपने जो अपने ब्लॉग में जो इमेज लगाए होंगे तो उसमे alt tag जरूर डाले क्युकी गूगल सिर्फ टेक्स्ट को समझता है। Alttag अगर आप ने अपने वेबसाइट में इमेज दाल रहे है। तो उसमे Alt tag जरूर डेल। Alt Tag डालने से आपको बहुत ही फायदा है। क्युकी Alt Tag डालने से आपका कंटेंट तो रैंक होगा ही। साथ आपका इमेज भी रैंक होगा। जिससे आपको आपकी ट्रैफिक बढ़ेगा। 

6 Internal link -  अगर आप सोचते है की मेरा पोस्ट जल्दी रैंक करे गूगल में तो आपको इसके लिए अपने आर्टिकल में internal link करना बेहत जरुरी होता है। आप अपने आर्टिकल में अपने ही पोस्ट को इंटरनल लिंक करे जिसे आपके पोस्ट को पढ़कर दूसरा पोस्ट में जाये। 

7.  content ,heading और keyword 


 Content - आपको अपने कंटेंट को 1000 से ज्यादा वर्ड्स लिखे ताकि आपके ब्लॉग में विजिटर बढ़ेगा वह भी हाई क्वालिटी कंटेंट लिखे किसी और में से to copy न करे। अगर आप अपने से हाई quality content लिखते है। 
तो आपका भी आर्टिकल गूगल पे रैंक होने की चांस बढ़ जाता है। हमेशा 1000 वर्ड से ऊपर का कंटेंट लिखे। 

Heading - आप अपने आर्टिकल हैडिंग अच्छा और attractive लिखे ताकि जैसे ही पढ़ते ही आपके ब्लॉग विजिटर क्लिक कर दे। मैं आपका आर्टिकल हैडिंग होता हैडिंग जितना ज्यादा attractive रखे। 

Keyword- आप अपना कीवर्ड हमेशा सर्च करके ही रखे। ताकि आपके कीवर्ड से आपका रैंक होने में मदद करता है। 

Off page Seo क्या है और यह कैसे काम करता है। 

 1. Search engine submission - आप अपने वेबसाइट को सही तरह से Search engine डालना है। ताकि आपकी वेबसाइट सही तरीका से सर्च इंजन सबमिट हो जाय। 

2. Social Media -  आप अपने वेबसाइट का लिंक ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पे शेयर करे ताकि। आपके ब्लॉग को सब जान पाए। 

3.  Back link-   बैकलिंक बनाना ऑफ पेज seo के अंदर आता है।

4. Pinterest - आप अपने ब्लॉग का इमेज पिनटेरेस्ट में दाल सकते अगर कोई व्यक्ति आपके इमेज पर क्लिक करता है तो सीधे आपके वेबसाइट पे आ जायेगा।

5 Guest पोस्ट - आप अपने ब्लॉग का पोस्ट दूसरे के वेबसाइट पे लिखने के अनुरोध कर सकते है जिसे  हम गेस्ट पोस्ट कहते है।

6 . blog comment - आप दूसरे के वेबसाइट पे जाकर कमेंट कर सकते है। अगर कोई भी विजिटर उसे वेबसाइट पे आएगा तो। आपके भी कमेंट पढ़कर आपके वेबसाइट पे आ सकता है। 

Post a comment

0 Comments